Aditya L1 landed successfully: भारत ने एक बार फिर रचा इतिहास

Aditya L1 landed successfully: भारत की स्पेस एजेंसी ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) के द्वारा Aditya L1 launching date ,2 September 2023 को रखी गई थीं  Aditya L1 mission को PSLV-C57 सेटरलाइट सफलता पूर्वक लॉन्च किया गया था। सभी भारतीय इस मिशन को लेकर काफी उत्सुक थे। सभी भारतीय के मन में यह सवाल था की क्या यह सफलता पूर्वक लैंडिंग कर पाएगा या नहीं मन में इसे लेकर काफी उत्सुकता बनी हुई है। अब आपकी उत्सुकता खत्म हो चुकी हैं क्यो की Aditya L1  सफलता पूर्वक लैंडिंग कर चूका हैं जी हां 6 jan  2024 ठीक 4:00 भजे लैग्रेंज प्वाइंट पर पहुंच चूका हैं। विश्व भर में यह खबर पहुंच चुकी हैं। टेकोनॉल्जी की इस दुनियां में भारत लागतार आगे बड़ रहा हैं। आने वाले कुछ सालो में दुनिया के बड़े बड़े देशों में भारत भी शमिल होने वाला हैं।

Aditya L1 mission : क्या हैं लैग्रेंज प्वाइंट Aditya L1 mission landed successfully

लैग्रेंजियन बिंदु वे बिंदु हैं जहां दो वस्तुओं के बीच कार्य करने वाले सभी गुरुत्वाकर्षण बल एक-दूसरे को निष्प्रभावी कर देते हैं। यानि अगर कोइ व्यक्ती लैग्रेंज प्वाइंट पर खड़ा हैं तो अर्थ और सूर्य का ग्रेविटेटेशनल बराबर होता है। ऐसे लगभग 5 प्वाइंट होते हैं।

Aditya L1 mission: का क्या हैं उद्देश्य

मिशन का प्राथमिक उद्देश्य सौर वायुमंडल, विशेष रूप से क्रोमोस्फीयर और कोरोना का अध्ययन करना है और कोरोनल मास इजेक्शन (सीएमई), सौर फ्लेयर्स और सौर कोरोना की रहस्यमय हीटिंग जैसी घटनाओं में अंतर्दृष्टि प्राप्त करना है।

Aditya L1 mission का बजट

आदित्य L1 के बजट की बात की जाए तो यह दूसरी एजेंसी के सूर्य मिशन के मुकाबले काफी कम है हालांकि इसरो ने बजट को लेकर कोई खुलासा नहीं किया है लेकिन भारत सरकार ने लोकसभा में बताया था कि सोलर मिशन के लिए लगभग 378.53 करोड रुपए दिए गए थे भारत का अभी तक का सबसे सस्ता बजट यही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *