Peregrine Mission 1 USA launching Date: नासा का मून मिशन हुआ फेल जाने क्या हैं पुरा मामला

Peregrine Mission1: हाल ही में USA की NASA स्पेस एजेंसी ने नया रॉकेट लॉन्च किया हैं। यह दुनिया का पहला निजी चंद्र मिशन होने वाला हैं। यानि इसमें जो रॉकेट और उपग्रह का इस्तेमाल किया गया हैं वह दोनो ही निजी कंपनी के हैं। मिशन का नाम Peregrine -1 , Peregrine Mission 1 launching date 8 जन 2024 को सुबह 7 भजे वल्कन सेंटौर रॉकेट के माध्यम से फ्लोरिडा के केप कैनावेरल से लॉन्च किया गया मिशन में थोड़ी चूक होने की वजह से NASA डरा हुआ हैं। लेकिन उनका कहना हैं की इस समय लक्ष्य Peregrine -1 को चन्द्रमा के जितना करीब हो सके पहुंचाना है।

इस मिशन में 20 से ऊपर मानव अस्थियों को साथ ले जाया गया हैं। कंपनी इन अस्थियों के साथ कुछ एक्सपेरिमेट करने वाली हैं। Peregrine लैंडर की रूप रेखा एस्ट्रोबेटिक कंपनी के द्वारा तैयार की है। पेरेग्रीन एस्ट्रोबोटिक्स का पहला लैंडर मिशन है। और टीम की योजना चंद्रमा की सतह पर सफलतापूर्वक अंतरिक्ष यान उतारने वाली पहली वाणिज्यिक कंपनी बनने की है. लैंडर कुल 20 पेलोड या कार्गो ले जाता है, जिसमें नासा की वाणिज्यिक चंद्र पेलोड सर्विसेज (सीएलपीएस) पहल से 5 शामिल हैं।Peregrine Mission 1 NASA

Peregrine Mission 1 को लेकर कंपनी का कहना

कंपनी ने एक्स ऐप पर लिखा, ”पूरी तरह से परिचालन स्थिति में प्रवेश करने के बाद लैंडर को एक मुश्किल का सामना करना पड़ा, जिसने एस्ट्रोबायोटिक को स्थिर सूर्य-दिशा ओरिएंटेशन प्राप्त करने से रोक दिया.” पिट्सबर्ग स्थित एस्ट्रोबोटिक ने कहा, ”दुर्भाग्य से ऐसा प्रतीत होता है कि प्रोपल्शन सिस्टम में विफलता के कारण प्रोपल्शन की गंभीर क्षति हो रही है. टीम इस नुकसान को स्थिर करने की कोशिश करने के लिए काम कर रही है, लेकिन स्थिति को देखते हुए हमने उस विज्ञान और डेटा को अधिकतम करने को प्राथमिकता दी है जिसे हम प्राप्त कर सकते हैं. हम वर्तमान में यह आकलन कर रहे हैं कि इस समय कौन से वैकल्पिक मिशन प्रोफाइल संभव हो सकते हैं.”

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *